सूचना

यह वेब पेज इन्टरनेट एक्सप्लोरर 6 में ठीक से दिखाई नहीं देता है तो इसे मोजिला फायर फॉक्स 3 या IE 7 या उससे ऊपर का वर्जन काम में लेवें

Sunday, July 8, 2012

सावन की पहली झमाझम मानसूनी वर्षा

"हे भगवान इंह साल तो काफी तरसा रिहयो है के काळ ही गेरग्यो के? जेठ गयो साढ़ गयो और अब सावण भी जाण लाग्यो अब तक कुनी बरस्यो" ये ही बात हर किसान के मुँह पर सुनाई दे रही थी "शायद भगवान ने आज उनकी पुकार सुन ली ,आज से झुन्झुनूं जिले में मानसुनी वर्षा की शुरूवात हो गई
काफी दिन से बारिश की बाट देखते देखते आज आखिर कार भगवान हमारी नगरी पर मेहरबान हो ही गया और इस साल की पहली मानसूनी वर्षा कर दी और वैसे कहे तो सावन मास की भी पहली बारिश हुई
 बारिश वैसे बहुत ज्यादा नही हुई लेकिन फिर भी सड़क किनारे पानी इकट्ठा हो गया था कई लोगों ने अपने घर पर इस बारिश में नहा कर लुप्त उठाया,  हर किसी के मुँह और मन में खुशी की लहर दिखई दे रही थी
 अब और वर्षा आने की आशा बन गई मौसम भी बहुत सुहाना हो गया तेज हवा के साथ शुरू में तो कुछ छिटें बौछारे ही आई लेकिन फिर अच्छी बारिश हुई चारो तरफ आसमान में बादल छाये हुये हैं और शायद शाम तक और भी बारिश आने वाली है।
 लोग ग्वार, बाजरा बौने की आश लिये बैठे थे उनके लिये जैसे चार चांद ही लग गये उन्होने आज से अपने औजार उठाने शुरू कर दिये है।





आज के लिये इतना ही फिर मिलते है.........












आपके पढ़ने लायक यहां भी है।

बगड़ के कुछ धार्मिक, शैक्षिक, दर्शनीय स्थल

 

चलायें अपनी मर्जी से अपने कम्प्यूटर की विन्डोज

 बालाजी के आशीर्वाद के साथ लक्ष्य का दुसरा जन्म दिन

बेचारा जमींदार झेल रहा सर्दी और सरकार की मार

  सोनू की जिद और नाहरगढ़ दर्शन,जयपुर

मेरे बाप पहले आप( लक्ष्य का बाल हट )

अन्य महत्वपूर्ण लिंक

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...