सूचना

यह वेब पेज इन्टरनेट एक्सप्लोरर 6 में ठीक से दिखाई नहीं देता है तो इसे मोजिला फायर फॉक्स 3 या IE 7 या उससे ऊपर का वर्जन काम में लेवें

Tuesday, January 8, 2013

ड ड ड ड ड बावलिया बाबा की संदेश यात्रा,बगड़

 आज बगड़ नगर में बावलिया बाबा के जयकारे गुंजे, यह बगड़ का सौभग्य है कि खुद बाबा आज इस बगड़ की नगरी पर मेहरबान हुऐ और अपने दर्शनो के द्वारा अपने भक्तजनो को लाभान्वित किया, आज बगड़ से होकर बाबा की संदेश  रथ यात्रा निकली हजारो भक्तो ने बाबा के दर्शनो का लाभ उठाया।      
ड ड ड ड ये बाबा की औंकार शक्ति या बाबा का आशिर्वाद या बाबा का मूल मंत्र ही समझों। यह यात्रा  परमहंस पंडित गणेशनारायणजी (बावलिया बाबा) के 100 वें निर्वाणोत्सव के उपलक्ष में तीन जनवरी से दिव्य संदेश यात्रा रथ पर निकाली गई जो उनके  जन्म स्थान बुगाला ((नवलगढ़))से शुरू हुई थी।  यात्रा का नेतृत्व भगवत जन कल्याण मिशन के प्रणेता पं. प्रभुशरण तिवाड़ी कर रहे थे। 
यह यात्रा बुगाला से शुरू होकर गुढ़ा, उदयपुरवाटी, चिराना, नवलगढ़, डूंडलोद, मुकुंदगढ़, मंडावा, झुंझुनूं, इस्लामपुर, बगड़, मंड्रेला, अलसीसर, पिलानी व सूरजगढ़ से होती हुई 10 जनवरी को चिड़ावा पहुंचकर संपन्न होगी।तो आज बारी बगड़ नगर की थी।

 तो बगड़ नागरिक दर्शनों के इस पावन अवसर को कैसे जाने देते अतः जगह जगह पर टेंट गेट  पांडाल लगाकर यात्रा का भव्य स्वागत किया गया, फुलों की वर्षा के साथ बाबा का बाबा की यात्रा का स्वागत किया गया।आपको विदित है कि बाबा का प्रसिद्ध मन्दिर चिड़ावा में स्थित है।इनके स्थान पर हर वर्ष बहुत बड़ा मेला लगता है।  और मेले से पहले विशाल भजन संध्या रखी जाती है जिसमें दूर दराज के कलाकारों द्वारा बहुत ही सुन्दर व कर्णप्रिय भजनों की रस मयी गंगा प्रवाहित की जाती है।

 

आपके पढ़ने लायक यहां भी है।

इस शताब्दी(सदी) के 12 12 12 को सलाम

दीपावली के कुछ खूबसूरत जगमगाते नजारे,बगड़

दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं

  कटरा से मां वैष्णो देवी के दरबार तक

वाघा (बाघा) बार्डर परेड,अमृतसर

लक्ष्य

अन्य महत्वपूर्ण लिंक

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...