सूचना

यह वेब पेज इन्टरनेट एक्सप्लोरर 6 में ठीक से दिखाई नहीं देता है तो इसे मोजिला फायर फॉक्स 3 या IE 7 या उससे ऊपर का वर्जन काम में लेवें

Wednesday, September 11, 2013

गणपति आयो.. रिद्धि सिद्धि लायो बाबो..गणपति आयो.. सांस्कृतिक कार्यक्रम बगड़

 पीरामल गेट बगड़ के निकट जहां पर गणेश चतुर्थी मनायी जा रही हैं गणेश चतुर्थी महोत्सव की त्रिदिवसीय श्रृंखला में कल रात को आर्केस्ट्रा पार्टी द्वारा भजनों के साथ नृत्य द्वारा भक्तों को भाव विभोर किया साथ ही बीच बीच में कॉमेडी द्वारा भी लोगों का मनोरंजन किया गया। , हर वर्ष की भाति इस वर्ष 4 फिट ऊची गणेश जी की मूर्ति को बहुत ही सुन्दर ढ़ग से लाईटेड कर सजाया गया लाइ्रट से जगमगाते गणेश जी बहुत ही सुन्दर लग रहे थे। जिन्हे देखकर हर कोई मन्त्रमुग्ध हो सकता था नजारा बहुत ही सुन्दर दिखाई दे रहा था
पार्टी द्वारा  श्री  गणेश जीमहाराज के भजनों की स्वर गंगा प्रवाहित करवाई गई बगड़ नगर के लोगों के अलावा आस पास के गांवों के लोगों ने भी श्री गणेश जी के दर्शन कर भजनों का लाभ उठाया
 दर्शनों तथा भजनों का रसपान करने के लिए काफी भीड़ जमा हुई ।पार्टी में टोंक की एक लेडिज कलाकार ने भी अपने मधुर भजनों द्वारा भक्तों की शंमा को एक मंत्र में बांधे रखा
 वैसे आपको पता है आजकल धार्मिक भेजनों का स्तर गिरता जा रहा हैं यहां भी वो देखने को मिला बीच बीच में फिल्मी तर्ज के गीत भी गाये।
 हरियाणवी रागणी भी गाई गई नागिन डांस विशेष आकर्षक का केन्द्र बना रहा है। जिसको देखने के  लिए दर्शको ने 3 बजाये हालांकि मैं जो 2 बजे ही घर के लिए चला गया था

 और बीच बीच में कॉमेडी की फुहारें भी लोगों को गुदगुदाने के लिए काफी प्रयाप्त मात्रा में छोड़ी गई जिन्हे सुनकर लोग गदगद हो गये।

 भजनों के साथ साथ मन मोहक ठुमके भी लेडिज कलाकार व जेन्टस कलाकार ने लगाये।

 भजनों और बाबा के दर्शनो के लिए उमडा जन सैलाब
 और फिर 4 बजे श्री गणेश आरती के साथ इस कार्यक्रम का समापन किया गया आज साम 4 बजे विशाल झांकी का आयेजन किया जा रहा हैं झांकि के साथ इस त्रिदिवसीय महोत्सव का समापन किया जावेगा। झांकी मेरी दुकान पीरामल गेट से चलकर मैन बाजर, बी.एल चैक  होती हुई श्री श्याम मन्दिर के निकट फतेहचन्द सागर तालाब तक जायेगी और वहां पूजा अर्चना के बाद गणेश जी  की प्रतिमा को तालाब में विर्शजित किया जायेगा।
मन मोहक झांकी के दृश्यों के साथ कल फिर हाजिर होंगें तब तक के लिए इजाज़त ....


आपके पढ़ने लायक यहां भी है।

भक्तों के आगे झुमें (नाचे) भगवान कन्हैया और भोले शंकर,श्याम मन्दिर बगड़

  श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर्व बनाम/ (केसरिया)

ले ल्यो पट्टी बरतो पढ़णों जरूर है,लक्ष्य का स्कूल

श्री डेयरी वाला बालाजी मन्दिर के पूर्व पुजारी की पुण्य तिथि पर मूर्ति स्थापना,बगड़

 

लक्ष्य

अन्य महत्वपूर्ण लिंक

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...