सूचना

यह वेब पेज इन्टरनेट एक्सप्लोरर 6 में ठीक से दिखाई नहीं देता है तो इसे मोजिला फायर फॉक्स 3 या IE 7 या उससे ऊपर का वर्जन काम में लेवें

Wednesday, May 2, 2018

राजस्थान का मेवा फल सांगरी स्वाद बे मिशाल

 राजस्थान के  कल्प वृक्ष को कौन नही जानता? खेजड़ी ये राजस्थान  का  राज्य वृक्ष भी है। जिसके बारे में और इससे होने वाले लाभ व फायदो के बारे में मैं  अपनी पहले की पेास्ट में लिख चुका हूं इसका व्यापारिक नाम कांडी है अंग्रेज़ी में यह प्रोसोपिस सिनेरेरिया नाम से भी  जाना  जाता है। इसके जो फूल  लगता  है उसे मींझर कहते  है।तथा इसका फल   को सांगरी कहते  है। जिसकी सब्जी बनाई जाती है। इसका फल सुखने पर खोखा कहलाता है।  जो सूखा मेवा है
 आज मै आपको बताने जा रहा हूं इस वृक्ष से मिलने वाले राजस्थान में ही नहीं बल्की पुरे देश, विश्व में सबसे प्रसिद्ध  फल  सुखे मेवे के नाम से प्रसिद्ध फल सांगरी के बारे में जो खेजड़ी वृक्ष की उत्पपन करता  है।

आप सभी ने राजस्थान में खेजड़ी वृक्ष पर लगने वाले मेवे फल जिसको सांगरी कहा जाता है उसकी सब्जी और कढ़ी का स्वाद तो लिया ही होगा ,शायद ही कोई ऐसा होगा जिसने इसका स्वाद नही चखा होगा,ओर जिसने नही चखा वो दुर्भाग्यशाली भी कहा जाता सकता है इसकी सब्जी और कढ़ी अति स्वादिष्ठ जिसका नाम सुनते ही मुह में पानी आ जाता है ये फल आजकल गर्मियो में राजस्थान में प्रचुर मात्रा में लगता है हालांकि आजकल कम होती जा रही है पर गावो में बहुतायत मिल जाती है इसको सूखे मेवे के नाम से भी जाना जाता है इस हरी सांगरी सब्जी बनाई जाती है कढ़ी बनाई जाती है जिसका स्वाद बेमिशाल होता है और हरी सांगरी को पानी मे उबाल कर धूप से सुखाया जाता है और उससे उसकी सुकेडी बन जाती है जिसको बाद में कभी भी उबाल कर सब्जी या कढ़ी बनाई जा सकती है इसलिए आजकल इसको तोड़कर इकठ्ठा कर लिया जाता है
इसकी सब्जी विश्व में भी प्रसिद्ध  है। इसकी सब्जी में अगर कैर (टिटियां) और मिला दिया जाये तो क्या कहना  वो कैर सांगरी की सब्जी कहलाती है। 
आजकल शादी विवाह में भी कैर सांगरी की सब्जी बेड़ चाव से बनाई जाती  है।।
हमारे खेत में भी कई खेजड़ी वृक्ष के पेड़ो के इस साल सांगरी लगी हुई है तो  इसके स्वाद को लेने के लिए मैने  भी  आज मेरे खेत मे लगी सांगरी को तोड़ के इकट्ठा कर लिया है दो चार दिन तो इसकी हरि सब्जी और कढ़ी का लुफ्त उठाया जाएगा फिर इसको सूखा लिया जाएगा फिर जब भी  इच्छा  हो तो इसकी सब्जी  बना  ली जायेगी। 


वैसे कई कई साल  इस फल  को भी रोग लग जाता जिससे इसके फूल मिझर के   ठिडरे बन जाते है और सांगरी नहीं लगती पर इस साल ये अच्छी तरह लगी हई  है।




अगर किसी दोस्त ने इसका स्वाद नही चखा है तो मेरे घर आमंत्रित है सांगरी की सब्जी खाने के लिए
लीजिये खेजड़ी वृक्ष के मेवे का स्वाद।


कफी दिनों से कोई पोस्ट नहीं लिख पाया इसके लिए क्षमा चाहुगा खेत के काम और दुकान में काम में अति व्यस्त रहा
आज के लिए बस इतना ही आगे फिर कभी .......









 31 दिसम्बर लाईन का खात्मा सबके जहन में घुमती रही मोदी की आत्मा

लक्ष्य



अन्य महत्वपूर्ण लिंक

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...