सूचना

यह वेब पेज इन्टरनेट एक्सप्लोरर 6 में ठीक से दिखाई नहीं देता है तो इसे मोजिला फायर फॉक्स 3 या IE 7 या उससे ऊपर का वर्जन काम में लेवें

Monday, September 20, 2010

प्राकृतिक छटाएं (दृश्य) जो मन को मोह ले


बगड़ नगर की प्राकृतिक छटा जो एक पल के लिए देखने वाले का मन मोह ले


मै आपको बगड़ नगरी का प्राकृतिक नजारा दिखाने जा रहा हूं जिसको मैने बारिश के बाद अपने केमरे में कैद किया है। बारिश के बाद का यह दृश्य बहुत ही मन मोहक लग रहा था मैने मेरी दुकान के उपर की टेरिस पर जाकर ये फोटो लिये जहां से पुरा बगड़ दिखाई देता है।


और आप पास के गांव भी दिखाई देते है। बगड़ नगरी हरी भरी वादियों में घिरी बहुत सुंदर लग रही थी
शायद धुँध मय मौसम होने के कारण फोटों इतने अच्छे न आ पाये हो लेकिन आखों  से यह नजारा बहुत ही मन मोहक लग रहा था

आखों को मनोरम लगने वाला यह दृश्य किसी जन्नत से कम नहीं था  ऐसा मन कर रहा था कि अगर पंख होते तो उड़ कर इस छटा का मौसम का आनन्द उठा सकूं
चारों तरफ से हरे पेड़ों से घिरी ये नगरी ऐसे लग रही थी मानों  कश्मीर की वादिया यहां ही आ गई है।

सन् 1928 में निर्मित बगड़ का प्रवेश द्वारा कहा जाने वाला यह पीरामल गेट भी अति सुन्दर लग रहा था





किसी भी फोटो को बड़ा करके देखने के लिए उस पर डबल क्लिक करे।

अन्य महत्वपूर्ण लिंक

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...