सूचना

यह वेब पेज इन्टरनेट एक्सप्लोरर 6 में ठीक से दिखाई नहीं देता है तो इसे मोजिला फायर फॉक्स 3 या IE 7 या उससे ऊपर का वर्जन काम में लेवें

Thursday, October 3, 2013

गायत्री परिवार की युग सैनिक निर्माण चेतना महारैली,बगड़

पांच दिवसीय शिविर की आज की कड़ी में आज बगड़ में युग निर्माण चेतना रैली का आयोजन किया गया  
प्रातः यज्ञ विधि सम्पूर्ण करने के बाद युग चेतना रैली का आयोजन किया गया युग चेतना रैली सुबह 11 बजे स्कूल या यज्ञशाला प्रांगण से प्रारम्भ हुई
और चैराहा बस स्टेण्ड श्री चन्द्रनाथ जी गेट के नीचे से होकर पीरामल गेट जहां परी दुकान है के पास से होकर मैन बाजार सब्जी मंडी तथा बी.एल चौक होते हुई पीरामल गल्र्स स्कूल के आगे वाटर बाक्स के सामने तक गई इस रैली में विद्यालय के सभी बच्चो ने भाग लिया
पीले वस्त्रों से सजे बच्चे, स्कूल स्टाफ, माता,बहने अति सुंदर लग रहें थे।
सभी लोग "हम बदलेंगे युग बदलेगा" "गायत्री माता के जयकारे"  गायत्री मंत्र का जाप करते बढ़ रहे थे।
"नर और नारी एक समान " आदि अनेंकों  युग निर्माण सबंधी नारे पुरे बाजार में गुंजते सुनाई दे रहें थे। रैली का दृश्य बहुत ही मन मोहक लग रहा था
रैली में स्कूली वाहन भी शामिल किये गये

रैली में श्रीमान एन आर पारी जी व श्री चिंरजी लाल जी सेनी, शकर लाल योगी।  सहित अनेको गण मान्य लोग शामिल हुए और
सभी ने गायत्री परिवार के कपड़े पहने हुए  थे। और सर पर प्रज्ञा रखी हुई
बाजार में भारत माता की जय जय कार लगाते हुए रैली का काफिला आगे बढ़ रहा  था
जय जय कार सुनकर लागे इस रैली को देखने उमड़ पड़े रैली में बच्चे बहुत काफी मात्रा में थे इसलिए रैली की लम्बाई बहुत अधिक थी लगभग 1 कि.मी तक लम्बी रैली थी।

इन बच्चों को रैली में चलते देख बाजार में रौनक सी छा गई रैली समाप्ति के बाद बच्चों को भोजन करवाया गया और फिर आराम  और शांम को फिर वहीं ग्रामीण खेल खिलवाये गये।
ज्योति विद्यापीठ के डायरेक्टर श्री चिरंजी लाल सैनी व उनकी पत्नी तथा स्कूल प्राचार्या श्रीमती किरण सैनी दोनो से साथ साथ इस रैली में अपनी भूमिका निभाई



मेरे मित्र शंकर लाल योगी जो इस कार्यक्रम में खान पान की व्यवस्था को देख रहें हैं
और मुझे इस कार्यक्रम को कवरेज करने का जिम्मा मिला है  जो मैं आपके साथ शेयर कर रहा हूं।








अब आज के लिए इतना ही कल मिलते है तीसरे दिन के कार्यक्रमों की रूप रेखा के साथ ....



आपके पढ़ने लायक यहां भी है।

कर्ज़ा देता मित्र को, गंजे का बाल न बांका होय

गणपति आयो.. रिद्धि सिद्धि लायो बाबो..गणपति आयो.. सांस्कृतिक कार्यक्रम बगड़

 

  श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर्व बनाम/ (केसरिया)


ले ल्यो पट्टी बरतो पढ़णों जरूर है,लक्ष्य का स्कूल

 

लक्ष्य


अन्य महत्वपूर्ण लिंक

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...