सूचना

यह वेब पेज इन्टरनेट एक्सप्लोरर 6 में ठीक से दिखाई नहीं देता है तो इसे मोजिला फायर फॉक्स 3 या IE 7 या उससे ऊपर का वर्जन काम में लेवें

Thursday, September 1, 2011

गणेश चतुर्थी महोत्सव शुरू, पीरामल गेट,बगड़


 आज गणेश चतुर्थी है,आप सभी ब्लॉग पाठको, देसवासियों, ब्लॉग मालिको को मेरी तरफ से गणेश चतुर्थी की  हार्दिक  शुभकामनाएं ।




हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी हमारे मार्केट की तरफ से मनाया जाने वाला तीन दिवसीय गणेश चतुर्थी महोत्सव शुरू हो गया हैं 
इस बार भी हमारे मार्केट पीरामल गेट सुपर मार्केट ,बगड़ में मेरी दुकान के नजदीक ही प्रथम पूज्य महाराज गेणश  जी की प्रतिमा की  स्थापना मंत्रोचार द्वारा तथा  श्री गणेश वन्दना द्वारा आज प्रातः 8.15 बजे की गई
 पूजा अर्चाना में मार्केट के वरिष्ट जन तथा समस्त मोहल्ले वासियों ने भाग लिया और गणपति बप्पा के जयकारें के साथ स्थापना की गई तीन दिनों तक चलने वाले इस महोत्सव में कई कार्यक्रम आयोजितत किये  जायेगें आज रात्रि को भजन संध्या  को आयेजन किया जायेगा। जिसमें स्थानिय कलाकारों द्वारा मधुर रस की गंगा प्रवाहित की जायेगी।
 तथा 2 सितम्बर को रात्रि में आरकेस्ट्रा नारेनोल की एक महसूर आरकेस्ट्रा पार्टी द्वारा बहुत ही सुन्दर प्रस्तुतियां   झलकिया प्रस्तुत  की जायेगी।
जिसमें हास्य कलाकार तथा भक्तजनों को गुदगुदाया जायेगा तथा नृत्य कलाकार द्वारा बहुत ही सुनदर नृत्य की प्रस्तुति प्रदान की जायेगी।

तथा 3 सितम्बर को सांय 4 बजे प्रतिमा के विर्षजन के लिए प्रतिमा को एक सुन्दर झांकी द्वारा सजाकर बगड़ के फतेह सागर तालाब तक ले जाये जायेगा तथा वहा पर पूजा अर्चना करके बाद में मूर्ति का जयकारें के साथ विर्षजन किया जायेगा। 
बाजार को बहुत ही सुन्दर ढ़ंग से लाईट डेकोरेटेड किया गया हैं जिसका नजारा मैं आपको कल की पोस्ट में दिखाउगा और साथ ही कल की आरकेस्ट्रा पार्टी की कलाओं से भी आपको रूबरू करवाऊगां
यह प्रोग्राम रोड़ से लगा हाने के कारण कई आंगतुक यात्री भी गणेश जी महाराज के दर्शनों का लाभ उठाते हं और अपनी मन्नत मांगते हैं तथा प्रसाद ग्रहण करतें है।



दुसरी तरफ चैमालों के मौहल्ले में भी  गणेश चतुर्थी पर मूर्ति स्थापना की गई हैं और आज रात्रि बहुत अच्छी पार्टी द्वारा भजन संध्या का आयेजन भी किया जा रहा है।

आज के लिए इतना ही बाकि कल ...




आपके पढ़ने लायक यहां भी है।

जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं

 स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

 राखी का त्यौहार भाई बहन का प्यार

  किसानों ने उठाया अपना टूल (औजार) मालीगांव

  कई सालों के बाद देखने को मिला ये साजसामान (भाड़ और भड़बुजा)कासिमपुरा, मालीगांव

 जाट्यां को ही कोनी मिनखा रो भी जीवणों दुबर होग्यो, कारण यो जीव (लट,कातरो)

 होली की मस्ती और रंग गुलाल के संग फिर हम कैसे पिछे हटने वाले थे ? लक्ष्य

 

अन्य महत्वपूर्ण लिंक

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...