सूचना

यह वेब पेज इन्टरनेट एक्सप्लोरर 6 में ठीक से दिखाई नहीं देता है तो इसे मोजिला फायर फॉक्स 3 या IE 7 या उससे ऊपर का वर्जन काम में लेवें

Wednesday, October 12, 2011

जहां आज भी लोग समय निकालकर आते हैं, प्रसिद्ध रामलीला, बगड़

आप सभी को दशहरे की हार्दिक शुभकामनाएं
बगड़ की प्रसिद्ध रामलीला के कुछ दृश्य

 दशहरे का अवसर पर आपको हर जगह गांव- गांव ढ़ाणी- ढ़ाणी में आपको इन दिनों रामलीला का मंचन होता नजर आ जायेगा।तों मैं भी आपको हमारे नजदीक की रामलीलाओं के अभीनय से अवगत करा रहा हूं , बगड़ की  रामलीला  श्री श्याम मण्डल प्रबंध समिति द्वारा चलायी जाती है। 
  यह रामलीला कितनी प्रसिद्ध रही हैं इसके बारे में मैं अपनी पहले की पोस्ट में बता चुका हूं

प्रसिद्ध हैं बगड़ की रामलीला



और इस के अभिनय का विडियों भी मैं पिछे की पोस्ट में दिखा चुका हूं (बगड़ की रामलीला चलचित्र
विभिषण का रोल अदा कर रहे हमारे मित्र  रोताश जी सैनी आंचल स्टूडियों

तथा श्री राम को रोल अदा कर रहे अशोक जी
आज भी  इस रामलीला का अभिनय वास्तव में दर्शको को  3 घंटे तक बैठने के लिए विवश किये रखता हैं ,पुरा रामलीला मैदान  दर्शकों से खचाखच भरा रहता हैं
जब मैं वहा पहुचा तो दृश्य चल रहा था 
"रावण द्वारा प्रताडित होकर विभिषण का रामादल में आना और श्रीराम जी द्वारा उन्हें गले लगाकर आराम से बैठाना तथा सब कुशलता के समाचार जानना और प्रेम भाव से उसे रामादल में शामील करना
और उधर रावण द्वारा मनोरजन के लिए नाच गान का प्रोग्रम करवाना"
रावण का  रोल अदा कर रहें शिवभगवान शर्मा जी





रावण  का बोलने का अलग ही अंदाज जो दातों तले अंगुली दबाने पर मजबुर कर देता हैं






ध्यान मग्न होकर रामलीला  देखते दर्शक



सभी दर्शक प्रेम भाव से ध्यान मग्न होकर रामलीला देख रहें थे









अगली पोस्ट में बगड़ के निकट रेखा वाली ढ़ाणी में चल रही रामलीला के कुछ दृश्य लेकर फिर हाजीर होता हूं तब तक के लिए इजाजत ......


आपके पढ़ने लायक यहां भी है।

प्यारा सजा है तेरा द्वार भवानी, बगड़

 गणेश महोत्सव विसर्जन झांकी के मन मोहक दृश्य पीरामल गेट ,बगड़

 एक शाम गणपति बप्पा के नाम पीरामल गेट बगड़

  जहां आकर मन को शान्ति मिले ,दुर्गाष्टमी पर बगड़ में सजा मां दुर्गे का दरबार

 

अन्य महत्वपूर्ण लिंक

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...